LATEST:


विजेट आपके ब्लॉग पर

शनिवार, 6 सितंबर 2008

भ्रम


बाहर सुंदर...............,
जाने क्या अन्दर
.....!

1 टिप्पणी:

संजीव ने कहा…

भरमाई डरे भाई,

अडबड दिन बाद आपके पोस्‍ट आईस कहिके देखेंव त सब भरमें भरम हे ।


आपसे नियमित लेखन की अपेक्षा है ।